पतंजलि योग विद्यापीठ द्वारा "योग रत्न" नामक पाठ्यक्रम संचालित किया जाता है जिस में मुख्यतः पांच विषय एवं योगासन के प्रायोगिक अभ्यास हैं| यह पाठ्यक्रम 8 माह का होता है जिसमें एक भी दिन अवकाश नहीं होता| डेढ़ घंटे की कक्षा में 45 मिनट प्रायोगिक एवं 45 मिनट सैद्धांतिक विषय का अध्ययन कराया जाता है| कक्षा का समय प्रातः 6:00 से 7:30 बजे तक है| "योग रत्न" पाठ्यक्रम की अधिक जानकारी हेतु यहां क्लिक करें|

पतंजलि योग विद्यापीठ में योगाभ्यास हेतु सामान्य व्यक्तियों के लिए भी सुविधा है| जो लोग योगाभ्यास करना चाहते हैं उनके लिए विशेषत: प्रातः 6:00 बजे से 7:30 बजे तक कक्षा की व्यवस्था है| पतंजलि योग विद्यापीठ से विशेष प्रशिक्षण प्राप्त प्रशिक्षक इन कक्षाओं में अपना मार्गदर्शन देते हैं| दैनिक योगाभ्यास कक्षा की अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें|